हिमाचल एससीए चुनाव

Print Friendly, PDF & Email

sca_hpu.jpgएनएसयूआई-एबीवीपी में कांटे की टक्कर
शिमला विवि में एसएफआई का कब्जा बरकरार

शिमला। हिमाचल प्रदेश के कॉलेजों में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) और एबीवीपी के बीच कांटे की टक्कर सामने आई है। कुल 305 सीटों के लिए हुए चुनाव में एनएसयूआई ने 127 और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 125 सीटें जीती हैं। एसएफआई कॉलेजों में पिछड़ी, लेकिन वाम छात्र संगठन ने विश्वविद्यालय में अपना कब्जा बरकरार रखा है। विवि कैंपस में के एससीए चुनावों में पिछड़ने के बावजूद अपने लाल दुर्ग विवि परिसर को बचाने में कामयाब रही है और यहां चारोंं सीटें एसएफआई ने जीती हैं। एआईएसएफ, आजाद छात्र संगठन, हिल्स छात्र संगठन, हिंदोस्तान विद्यार्थी सेना आदि नए संगठनों का भी जन्म हुआ है।

शनिवार को सूबे के कॉलेजों के छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई से सबसे अधिक सीटें जीत कर पहला स्थान हासिल किया है। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में इस बार भी भगवा बिग्रेड लाल दुर्ग को भेदने में पूरी तरह नाकाम रही। परिषद को विवि की एससीए की तीन सीटों पर बढ़े अंतर से पटखनी खानी पड़ी। अध्यक्ष पद के लिए एसएफआई और एबीवीपी के उम्मीदवार में कड़ी टक्कर हुई। एसएफआई के नरेश कुमार को एबीवीपी के आशीष चौहान से महज 42 वोटों के अंतर से जीत हासिल हुई। उपाध्यक्ष पद के लिए रजनीश को 199 मतों,महासचिव पद पर आंचल गुलेरिया को 189 मतों से और संयुक्त सचिव पद पर रश्मि ठाकुर को 167 मतों से जीत हासिल हुई। सूबे के कॉलेजों में हुए चुनावों में मंडी, ऊना, चंबा, सोलन सिरमौर और कांगड़ा में एसएफआई को भारी नुकसान हुआ। कभी एसएफआई का का गढ़ माने जाने वाले मंडी जिले में एसएफआई को महज एक सीट हासिल हुई।

जिलावार सीटों का ब्यौरा
जिला एसएफआई एनएसयूआई एबीवीपी अन्य
शिमला 20 17 10 1
सोलन 0 13 3 0
कांगड़ा 8 34 22 7
चंबा 3 20 1 –
ऊना 0 3 16 1
मंडी 1 20 23 –
कुल्लू 3 4 9 –
किन्न्ाौर 4 – – –
लाहौल स्पीति – – 3 –
सिरमौर 2 9 6 3
बिलासपुर 0 1 15 –
हमीरपुर 1 6 17 –
कुल 42 127 125 11

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *